vastu tips for bedroom in hindi.-घर में शयन कक्ष कहाॅं बनाये।-वास्तु अनुसार शयनकक्ष बनाये वैवाहिक जीवन में खुशिया पाए - News20world

Post Top Ad

Your Ad Spot

vastu tips for bedroom in hindi.-घर में शयन कक्ष कहाॅं बनाये।-वास्तु अनुसार शयनकक्ष बनाये वैवाहिक जीवन में खुशिया पाए

Share This


                                      । । वास्तु शास्त्र । । 

वास्तु अनुसार शयनकक्ष बनाये वैवाहिक जीवन में खुशिया पाए.

vastu tips for bedroom in hindi.





वास्तु शास्त्र  के अनुसार मुख्य शयन कक्ष सुसज्जित हो तो वैवाहिक  जीवन सुखमय होने की संभावना बढ जाती है।


  • आइये जानते है-



  • घर में शयन कक्ष कहाॅं बनाये।



  • घर में किस दिशा में सोने का कमरा होना चाहिये।















  • घर में मास्टर बैडरूम अर्थात् घर के मुखिया का कमरा दक्षिण-पश्चिम या उत्तर दिशा की ओर होना चाहिए।



  • घर अगर दो मंजिला है। तो मकान की दूसरी मंजिल के दक्षिण पश्चिम दिशा के कोने में घर के मुखिया का कमरा शयनकक्ष होना चाहिए।



  • घर में उत्तर-पूर्व दिशा में देवी-देवताओं का स्थान होता है। इसलिए इस दिशा में कोई भी शयनकक्ष बैडरूम नही होना चाहिए।



  • घर में उत्तर-पूर्व दिशा में अगर शयनकक्ष बैडरूम होने से धन हानि,बनते हुये कामों में रूकावट और बच्चों की शादी में देरी हो सकती है।



  • घर में शयनकक्ष दक्षिण-पश्चिम दिशा में स्थिरता और महत्वपूर्ण कामों को हिम्मत से हल करने में सहायता प्रदान करता है।



  • घर में दक्षिण-पूर्व में शयनकक्ष होने से अनिद्रा,चिंता और वैवाहिक समस्या हो सकती है।



  • घर में मुखिया के बैडरूम में के कमरे के साथ अगर बाथरूम बनवाना हो तो शयनकक्ष कमरे के पश्चिम या उत्तर में बनवाना चाहिए।





  • घर के मुखिया का शयनकक्ष-बैडरूम मकान के मध्य भाग में नही होना चाहिए।



  • घर के मध्य भाग को ब्रहम्स्थान कहा जाता है। जोकि आराम और नींद के लिए बने शयनकक्ष के लिए उपयुक्त नही है।


vastu tips for bedroom in hindi.
vastu tips for bedroom in hindi. 

  • घर की छत की उचाई पर्याप्त होनी चाहिए।




  • क्योकि छत की कम उचाई होने पर गृहवासियों के जीवन क्रम की एक समयावधि पर निराशा एवं मानसिक अंसतुष्टि पूर्ण भावना उत्पन्न हो सकती है।






  • घर के खिडकी के टूटे शीशे अथवा दरार युक्त होने पर भवन गृहिणी को समस्याएं हो सकती है।



  • शयन कक्ष में सोते समय सिर दक्षिण अथवा पूर्व दिशा में रखना चाहिये। यदि शयन करते समय बीम सिर के उपर है तो शयन कक्ष में बीम के नीचे से हटकर सोना चाहिये।

No comments:

Post Bottom Ad

Pages