जीवन कैसे जीये। Motivation Tips



जीवन कैसे जीये। Motivation Tips

रास्ते से जौहरी गुजरा। उसने देखा कि कुम्हार गधे के गले में हीरा बाॅधकर चला जा रहा है। चकित होकर जौहरी ने कुम्हार से पूछा कितने पैसे लेगा इस पत्थर के। कुम्हार ने कहा एक रूपया। जौहरी बोला आठ आने लेगा। कुम्हार ने कहा चलो बारह आने सही। जौहरी का लोभ जागा,उसने सोचा मूर्ख हीरे को पत्थर समझ रहा हैं। अभी लौटेगा तो आठ आने में दे जाएगा। किंतु किसी दूसरे ने वह हीरा पूरे एक रूपये में खरीद लिया। जौहरी को सदमा बैठ गया। कुम्हार से बोला मूर्ख तू कोरा गधा ही निकला। लाखो का हीरा कौडियों में बेच दियाा

कुम्हार बोला यदि मैं गधा न होता तो क्या हीरा गधे के गले में बाॅधता ,किन्तु आपको क्या कहा जाए। जब आपको पता था कि हीरा लाखों का हैं, फिर भी कौंिडयों के दाम चुकाने में कोताही बरतते रहे।

हममें से कितने ही व्यक्ति कुम्हार और जौहरी की तरह है। कुछ तो अनजाने में ही इस हीरे की भाॅति बहुमूल्य जीवन को गॅवा देते है और कुछ जानते -समझते हुए भी उसे बरबाद होते देखते रहते है।

Post a Comment

0 Comments