SHIV JI BILVA PATRA PUJAN VIDHI HINDI |शिवजी पर बिल्व पत्र क्यो चढाते है। LATEST NEWS HINDI |

शिवजी पर बिल्व पत्र क्यो चढाते है।


 शिवजी पर बिल्व पत्र क्यो चढाते है। क्योकि बिना बिल्व पत्र चढाये भोलेनाथ की पूजा अधूरा मानी जाती है।  । 

SHIV JI BILVA PATRA PUJAN VIDHI HINDI |
SHIV JI BILVA PATRA PUJAN VIDHI HINDI |


शिव पुराण एवं अनेकों ग्रंथो  में शिव पूजा करते समय बिल्व पत्र की महिमा का बखान किया गया है।

अखण्ड बिल्वपत्रों द्वारा एक बार भी जो पुरूष भगवान सदाशिव का पूजन करता है वह पुण्यात्मा समस्त पापों से छुटकर शिव के परम धाम को प्राप्त करता है।

जो पुरूष पंचाक्षर मंत्रोच्चारण पूर्वक आसुतोष सदाशिव का श्रद्वापूर्वक बिल्वपत्रो द्वारा पूजन करता है। वह इस लोक में ऐश्वर्यवान होकर अन्त में शिवधाम को जाता है। बिल्व वृक्ष से उमापति का पूजन जो भी करता है वह सभी पापों से छुट जाता है। बिल्ववृक्ष का आश्रय लेकर जो पुरूष विधिवत मंत्र का जप करता है। वह पुण्यात्मा पुरूष पुरश्चरण का फल प्राप्त करता है।

बिल्व पत्रों द्वारा शिवजी का पूजन सर्वकामनाओं का प्रदाता तथा सम्पूर्ण दरिद्रो का विनाशक है। बिल्व पत्र सेे बढकर महादेव को प्रसन्न करने वाली अन्य कोई वस्तु नही है। भगवान भोलेनाथ को आक धतुरा बिल्व पत्र आदि अति प्रिय है। अत आप भक्तजन यही उन्हे अर्पित करें।

महादेव को बिल्व पत्र अर्पित करते समय निम्न मंत्र का उच्चारण करें।

त्रिदलं त्रिगुणाकारं त्रिनेत्रं च त्रिधायुतम्।

त्रिजन्म पापसंहारं एक बिल्व शिवापृणम्।

Share on Google Plus

About ONLINE DESK

Latest India,Hindi News, Hindi News,Health,Insurance,online puja, Astrology, online clasess,colleges,online teyari,Anmol vachan,sarkari jobs and Current Affairs in India around the world.