KANYA RASHI CAREER CHOOSE-CHOICE HINDI| career choose hindi by rashi | कन्या राशि किस क्षेत्र में कोनसी-कैसे जॉब नौकरी चुनें -करियर बनायें | और फटाफट सफलता पाये |

कन्या राशि किस क्षेत्र में कोनसी-कैसे  जॉब नौकरी चुनें -करियर बनायें | और फटाफट सफलता पाये | 

KANYA RASHI CAREER CHOOSE-CHOICE  HINDI.

 P  NAME CAREER CHOOSE-CHOICE HINDI.

TH NAME CAREER CHOOSE-CHOICE HINDI.

TAN NAME CAREER CHOOSE-CHOICE HINDI.

career choose hindi by rashi.

KANYA RASHI CAREER CHOOSE-CHOICE  HINDI

KANYA RASHI CAREER CHOOSE-CHOICE  HINDI


Special facts-

Career in the field of Virgo zodiac?Virgo zodiac jobs in which area.Choose the job of a kanya rashi .Friendly Career Field for VirgoHow to choose Virgo Career Career. Choose the career area from the first letter of the name.




|| कन्या राशि कैरियर विचार हिन्दी || 
|| टो,पा,पी,पू,स,ण,ठ,पे,पो || 

खास तथ्य -

कन्या राशि वाले किस क्षेत्र में कैरियर बनाये?
कन्या राशि किस क्षेत्र में जॉब करें |
कन्या राशि वाले कोनसी जॉब -नौकरी चुने |
कन्या राशि के लिये अनुकूल कैरियर फील्ड | 
कन्या राशि कैरियर चुनाव कैसे करें।
नाम के प्रथम अक्षर से कैसे कैरियर क्षेत्र चुनें।


कन्या राशि वाले जातको की पहचान कैसे करें।

जिन जातकों के नाम के प्रथम अक्षर टो,पा,पी,पू,स,ण,ठ,पे,पो होेेते है उनकी कन्या राशि होती है।


कन्या राशि वालों का गुण-स्वभाव और खास खूबियां।


  • आपकी राशि का स्वामी बुध ग्रह होता है।
  •  ये जातक कुशाग्र बुद्वि वाले होते है। 
  • इनमें अच्छी स्मरण शक्ति होती है।
  •  ये प्राय हास्य प्रिय होते है। 
  • इनका जीवन अनुशासित होता है। 
  • ये अपने कार्यो को विचार कर बहुत ही सावधानी से करते है। 
  • और अपने बुद्वि बल के द्वारा कठिनाईयों का समाधान करते है। 
  •  यह राशि द्विस्वभाव अर्थात चंचल और शांत वाली होती है। 
  •  इन राशि वाले जातकों में थोडे परिश्रम से सफलता प्राप्त कर लेते है। 
  • कन्या राशि वाले जातको का स्वामी बुध ग्रह सूर्य से बहुत निकटतम होने से इन जातकों में तेजस्विता का गुण होता है। इनकी संगीत मे रूचि होती है। 
  • ये प्राय घूमना ज्यादा पंसद करते है। इनकी उच्च पद प्राप्त करने की इच्छा रहती है।
  •  ये पूर्ण परिवार में रहना पंसद करते है।




शुभ वार-बुधवार।

शुभ रंग-हरा रंग।


  • कई व्यक्ति अपने क्षेत में विपुल धन-सम्पदा अर्जित करते है। 
  • लेकिन कुछ लोग विशेषकर इस धन सम्पदा से वंचित ही रहते है। 
  • इस का मुख्य कारण अपनी राशि के अनुसार कार्य क्षेतर का चुनाव होता है। 
  • अगर अपनी राशि और ग्रह स्थिति के अनुसार कार्य क्षेतर का चुनाव करेगें तो निश्चित ही सफलता मिलती है।
  •  इसलिए आज आपको अपनी राशि के लिये अनुकूल कैरियर क्षेतर के बारे में बताया जा रहा है। 
  • आप अपनी राशि के अनुसार कैरियर का चुनाव करें और सफलता पाये।


कन्या राशि अनुकूल कार्य क्षेत्र

पोस्ट आॅफिस- कन्या राशि वाले पोस्ट आॅफिस में कार्य कर कैरियर बना सकते है।

कोरियर सेवा-आपके लिये कोरियर सेवा में कैरियर के मार्ग सफलता दायक होते है।

रिसर्च शोध- कन्या राशि वाले रिसर्च अथवा शोध के कार्य में अपना कैरियर बना सकते है।

सम्पादन-आप किसी मीडिया में रिपोर्टर आदि का कार्य कर सकते है।

टाईपिस्ट-आप किसी भी भाषा में टाईपिस्ट की नौकरी कर कैरियर बना सकते है।

कम्प्यूटर सेवा-आप कम्प्यूटर से संबंधित व्यापार और नौकरी कर सकते है।

शेयर मार्केट- कन्या राशि वाले शेयर मार्केट में कार्य कर अपना कैरियर बना सकते है।

कमीशन एजेंट-आप किसी व्यापार वर्ग में कमीशन के आधार पर कार्य कर अच्छा मुनाफा कमा सकते है।

वकील- कन्या राशि वाले बोलने में दक्ष होते है इसलिये ये वकील बन सकते है।

बैंक- कन्या राशि वाले बैंक में नौकरी कर सकते है और बीमा के क्षेत्र में कमीशन पर किस्मत चमका सकते है।

मनोविज्ञान-ये मनोविज्ञान के क्षेत्र में कैरियर बना सकते है।

क्लर्क-आप किसी भी विभाग में लिपिक की नौकरी के लिये योग्य होते है।

लेखाधिकारी-आप लेखाधिकारी बन सकते है।

सीए-आप एक सफल सीए बन कर कैरियर बना सकते है।

कोंचिग- कन्या राशि वाले कोंचिग क्लासेस खोल सकते है।

इंजीनियर-आप इंजीनियरिगं कर कैरियर बना सकते है।

खेल- कन्या राशि वाले खेल का सामान क्रय विक्रय कर सकते है।

यातायात- कन्या राशि वाले यातायात विभाग में नौकरी के लिये सफल होते है।

प्रकाशन- कन्या राशि वाले किसी प्रकाशन विभाग अथवा कंपनी में अच्छे पद की प्राप्ति कर सकते है।

मुद्रक- कन्या राशि वाले किताव-पुस्तक आदि मुद्रण का कार्य कर सकते है।

पर्यटन विभाग-इस राशि के जातक पर्यटन विभाग में कैरियर बना सकते है।







अगर आपकों हमारी दी गई जानकारी अच्छी लगे तो हमें सब्सक्राइव करें और हमारी इस पोस्ट को शेयर करें।

विशेष कथन-

कुंडली में दशम भाव-लाभेश,लग्रेश,पराक्रमेश,भाग्येश ,धनेश भाव की स्थिति रचना पर गहनता से विश्लेषण कर विचार विमर्श करना योग्य समाधान सूचक होता है।

Tags- Swami Shree Harishanand ji Maharaj.online clasess.astrology. career by name.career by rashi.


Share on Google Plus

About ONLINE DESK

Latest India,Hindi News, Hindi News,Health,Insurance,online puja, Astrology, online clasess,colleges,online teyari,Anmol vachan,sarkari jobs and Current Affairs in India around the world.

0 comments:

Board Exam Result 2018 Search Here

Loading...

CBSE 10TH RESULT 2018